Auroville क्या है और कहां है? ऑरोविल का इतिहास वा स्थापना

ऑरोविल कहां है क्या है? यह कैसे जाए 



“ओरोविल” (Auroville) भारत का एक एक्सपेरिमेंटल शहर है अपने इस शहर का नेम सुना होगा या नहीं भी सुना है तो इस आर्टिकल में आपको इस शहर से जुड़ी सभी जानकारी प्राप्त हो जायेगी। यह भारत का सबसे अनोखा शहर माना जाता है या यह सबसे अनोखा शहर है भी यह कोई राजनीति धर्म जाति नहीं चलती यह तक की यह पैसे तक नहीं चलते है और यह स्कूल में एग्जाम भी नही होती। इसे सिटी ऑफ डाउन यानी सूर्य उदय का शहर कहा जाता गई इस शहर के बारे में आप जानकर हैरान हो जाओगे और यह पर जाना भी चाहेगे तो हम आपको इससे जुड़ी भी सभी जानकारी देगे तो आर्टिकल को पूरा पढ़िए।


ऑरोविल कहां है और क्या है? 

ऑरोविल पुड्डुचेरी के विलुप्पुरम जिले में स्थित एक अनोखा शहर है। जिसे  सूर्योदय के शहर (the city of dawn) के नाम से भी जाना जाता है। यह शहर अपने अलग ही कल्चर की वजह से इतना फेमस है यह जाते ही लोगो को शांति का अनुभव होता है इस शहर को इसमें रहने वाले लोग जिन्हें ऑरोविलियन कहा जाता वो भी खास बनाते है क्योकी यह पर रहने वाले लोग कई सारे देशों के है यह अलग अलग देशों के लोग मिलजुलकर संती पूर्वक तरीके से रहते है यह लगभग 58 देशों से आए हुए लोग रहते है जो भलेही रंग रूप भाषा से भिन्न हो परंतु सभी मिलकर मानवता को सर्वपारी रखते है और मानवता का प्रचार करते है तथा इन लोगो ने मिलकर इससे एक बहुत सुंदर शहर बना दिया है।


“ओरोवील विशेष रूप से किसी का नहीं है।  ओरोवील समग्र रूप से मानवता का है”


Auroville 20sq km में फैला हुआ है 

ऑरोविल का उद्देश्य मानवीय एकता की अनुभूति करना है यह दूर दूर से लोग शांति की तलाश में पहुंचते है इसकी खूबसूरती दुनिया भर के लोगो में बहुत प्रसिद्ध यह एक experimental City है।


Auroville” फ्रेंच भाषा शब्द है ऑरोविल का शाब्दिक अर्थ ऊषा नगरी अथवा नवजीवन की नगरी है। यह की जनसंख्या लगभग 2,814 (2018 के अनुसार ) है।

ऑरोविल की आधिकारिक भाषा संस्कृत, हिंदी, इंग्लिश तथा फ्रेंच है।


ऑरोविल का इतिहास वा स्थापना

28 फ़रवरी 1968 को “मां” मीरा अल्फासा द्वारा श्री ऑरोबिन्दो सोसाइटी की एक परियोजना के तहत ऑरोविल की स्थापना की गई थी। ऑरोविल श्री Sri Aurobindo (अरविन्द घोष) का सपना था जिसे पूरा करने के लिए उन्होंने काफी संघर्ष किया इस जगह का नाम भी Sri Aurobindo के ही नाम पर रखा गया।

Auroville शहर को डिजाइन आर्किटेक रोजर एंगर (Roger Anger) ने किया। इस ऑरोविल शहर को स्थापित करने वाली “मां” मीरा अल्फासा का मानना था की ये यूनिवर्सल टाउनशिप भारत में बदलाव की हवा लायेगा इस शहर को बसाने में उनका सिर्फ यही मकसद था की ये शहर जात-पात और भेद भाव से दूर रहे यह कोई भी इंसान जाकर रह सके जहां विभिन्न राष्ट्रीयताओं, संस्कृतियों और विश्वासों के लोग एक साथ सद्भाव से रहते हैं।


 “ऑरोविले एक ऐसा सार्वभौमिक शहर बनना चाहता है जहां सभी देशों के पुरुष और महिलाएं सभी पंथों, सभी राजनीति और सभी राष्ट्रीयताओं से ऊपर शांति और प्रगतिशील सद्भाव में रहने में सक्षम हों।  ओरोवील का उद्देश्य मानवीय एकता की अनुभूति करना है”  ~ https://auroville.org/ 


औरोविल के प्रसिद्ध स्थल

  1. मातृमंदिर – ऑरोविले की प्रमुख विशेषताओं में से एक मातृमंदिर है, जो एक आधुनिक संरचना है जिसका अभिन्न योग अभ्यासियों के लिए उच्च महत्व है।  मातृमंदिर में लगभग 30 मीटर ऊंचा कमल के आकार का गुंबद है और यह सूर्य के प्रकाश को प्रतिबिंबित करने वाली सुनहरी डिस्क से ढका हुआ है। मातृमंदिर ऑरोविल शहर के केंद्र में शांति नमक एक खुले स्थान में स्थित है। मातृमंदिर को ऑरोविल शहर की आत्मा कहा जाता है यह ऑरोविल शहर का सबसे प्रसिद्ध स्थान है। यह पर्यटको को अपनी और आकर्षित करता है यह लोगो को बहुत ही शांति का अनुभव होता है जो की इस जगह को यादगार बनाती है।

  2. Unity Garden  –  यूनिटी गार्डन मातृमंदिर के ही नजदीक स्थित है जहा से व्यू और साफ जगह और यह पर सभी सुव्यवस्तित है यह पर लगे पेड़ पौधे अलग अलग प्रकार के है जहा पर लोग आपको ध्यान करते योग करते हुए मिल जायेगे यह पर समय वियतित करना काफी अच्छा लगता है खास कर सुबह और शाम के समय यह आपको भिन्न भिन्न प्रकार के पक्षियों को आवाजे चारो तरफ से सुनाई देती है।

  3. Sri Aurobindo Ashram – श्री अरबिंदो घोष के जीवन के बारे में जानने में आप रुचि रखते हो तो जाया जा सकते है ऑरोविल श्री अरविंद घोष का सपना था।
  4. Auroville City – ऑरोविल शहर एक ऐसी जगह है जहा आपको हर तरफ शांति का अलग ही अनुभव मिलेगा यह पर रहने वाले लोग वा उनके विचारों से आप बहुत ही प्रभावित होगे ऑरोविल में हर व्यक्ति अपनी क्रिटिविटी दिखाता है आपको ऑरोविल एक्सप्रोल करते करते कई आर्ट देखने को मिलेंगे यह पर रहना खाना घूमना अलग ही अनुभव प्राप्त करता है यह आपको हर एक चीज में मीनिंग नजर आने लगेगा और इस शहर की व्यवस्था देखकर आपका मन काफी प्रसन्न होगा।


औरोविल कैसे जाए

यह रोजाना लगभग 2500 विजीटर्स आते है तथा ऑरोविल में 92 गेस्ट होटल्स है ऑरोविल North of Pondicherry से 15 किलो मीटर की दूरी पर इस्थित है आप North of Pondicherry ट्रेन की सहायता से आ सकते है या चेन्नई से ऑरोविल की दूरी 150km है आप चेन्नई फ्लाइट्स से भी आ सकते है चेन्नई से ऑरोविल के लिए आपको बस वा टैक्सी दोनो ही मिल जायेगी।  आप भारत के किसी भी शहर से चेन्नई आ सकते है ट्रेन बस या फ्लाइट की सहायता से।


“ऑरोविले एक पर्यटन स्थल नहीं है, यह एक विशाल क्षेत्र में फैले सामग्री और आध्यात्मिक अनुसंधान के लिए एक लिव-इन परिसर है।  आकस्मिक आगंतुकों तक पहुंच कुछ क्षेत्रों तक सीमित है, लेकिन स्वयंसेवकों, छात्रों और जो लोग सहयोग करना चाहते हैं या ऑरोविले से सीखना चाहते हैं, उनका स्वागत है” ~ auroville.org 

Auroville City को और किस नामो से जाना जाता है

  • The City of Dawn – सूर्योदय का शहर
  • A City of the Future
  • A City with Soul
  • A City for Seekers
  • A City for Karmayoga

ऑरोविल को कई लोगो ने इन नामो को दिया उनके अनुभव के आधार पर।



उम्मीद है की आपको ऑरोविल शहर के बारे में जानकर अच्छा लगा होगा अगर आपका कोई सवाल हो या कुछ इस आर्टिकल में कमी हो गई हो तो कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं

Leave a Reply

Your email address will not be published.