ओयो का मालिक कौन है ? || Owner of OYO rooms

ओयो का मालिक कौन है ?

Hello, दोस्तो आज के इस ब्लॉग आर्टिकल में हम आपको OYO hotel rooms से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियां देने वाले है बताने वाले है की OYO किया है इसके मालिक कोन है इसकी शुरुआत कैसे हुई आज इस टॉपिक से रिलेटेड हम आपको इस पोस्ट के जरिए सभी जानकारी OYO से रिलेटेड उपलब्ध कर रहे है।

OYO के मालिक कौन है ?

OYO rooms के मालिक (owner) रितेश अग्रवाल है। इनका जन्म 16 November 1993 को भारत के उड़ीसा के एक छोटे से गांव बिस्सम कटक (Bissam Cuttack) जिला Rayagada में हुआ था। इन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा अपने जिले के ही SCARED HEART SCHOOL से पूरी की फिर IIT के इंट्रेंस एग्जाम की तयारी के लिए वहा kota (rajasthan) आ गए इनका शुरू से ही इंट्रेस्ट स्टार्टअप करने में था।

रितेश अग्रवाल ने इंजीनियरिंग छोड़ oyo rooms की शुरुआत की जो आज 6000 करोड़ की कंपनी बन चुकी है।

OYO क्या है ?

OYO का फुल फॉर्म On Your Own है। यह भारत का सबसे बड़ा होटल नेटवर्क है जो 199 शहरों में फैला हुआ है।  इसका मुख्यालय हरियाणा के गुरुग्राम में है।  इसका लक्ष्य दुनिया का सबसे पसंदीदा होटल ब्रांड बनना है।  OYO के पास 6500 से अधिक होटल हैं जो कम कीमत पर मानकीकृत और आरामदायक प्रवास प्रदान करते हैं। Oyo की स्थापना रितेश अग्रवाल द्वारा 2013 में की गई थी OYo के CEO भी रितेश अग्रवाल ही है 


Oyo में Revenue: 4,157 crores INR है


OYO के पास हजारों की संख्या में होटल्स हैं जिसमे करीबन oyo के पास 10लाख oyo rooms है यह लोक विदेशों तक फैली हुई है यूएई, जापान, UK, po पप्पू अरब, फ्लिपिन, इंडोनेशिया, श्रीलंका, अमेरिका सहित और भी कई सारे देशों में फैली हुई है।


ओयो रूम्स, जिसे ओयो होटल्स एंड होम्स के नाम से भी जाना जाता है, एक भारतीय बहुराष्ट्रीय हॉस्पिटैलिटी श्रंखला है जो लीज्ड और फ्रैंचाइज़ी होटलों, घरों और रहने की जगहों की है।  रितेश अग्रवाल द्वारा 2012 में स्थापित, OYO में शुरू में मुख्य रूप से बजट होटल शामिल थे।


OYO की शुरुआत कैसे हुई

OYo के founder रितेश अग्रवाल को शुरू से ही स्टार्टअप करने और business में बहुत रुचि थी वहा कोटा अपनी iit की एग्जाम की तयारी करने आए थे वहा से वे भारत में कई जगह घूमने जाने लगे और उन्हें उनके बजेट में अच्छी होटल डूडने में काफी परेशानी होती थी सस्ती होटलों में इतनी अच्छी व्सवस्त नही रहती थी होटल डूडना बहुत ही समय ले लेता था


तो उन्होंने अमेरिकी स्टार्टअप airbnb से इंस्पायर होकर स्टार्टअप करने का सोचा उन्होंने बहुत छोटी उमर में ही 2012 में Oravel Stays नाम से एक कंपनी की शुरुआत की जिसका मकसद लोगो को कम कीमत वाली होटल उपलब्ध कराना था।


Orvel stays का नेम बदल कर 2013 में OYO (On Your Own) कर दिया गया और सभी होटल का सस्ते होने के साथ साथ एक स्टैंडर्ड भी रखा गया ताकि कस्टमर को कम कीमत में अच्छा होटल मिल सके 


समय के साथ इससे और भी विकसित किया गया इसको ऑनलाइन लाया गया जिससे कस्टमर घर बैठे होटल के प्राइज फोटोस को देख सके वा बुक भी कर सके यह business मॉडल सक्सेसफुल रहा और देखते ही देखते OYO होटल्स कई देशों में प्रचलित हो गया।

OYO अपने कस्टमर्स को क्या क्या सर्विसेस देता है 

Oyo का असल लक्ष्य ही अपने उपभोक्ताओं को कम खर्चे में अच्छे से अच्छा होटल उपलब्ध कराना है जिसके लिए Oyo के मैनेजर्स बार बार होटल्स को चेक करते रहते है और यह ध्यान रखते है की उपभोक्ताओं को किसी असुविधा का सामना न करना पड़े।

Oyo के अंतर्गत आनी वाली होटल्स के स्टॉफ को ट्रेन किया जाता है ।

Oyo अपने कस्टमर्स के फीडबैक को बहुत ही जरूरी समझता है वा उसे अप्लाई भी करता है।

Oyo ने hotel की ऑनलाइन बुकिंग को इतना आसान बना दिया है की कोई भी केवल कुछ सेकंड्स में होटल बुक ऑनलाइन भी कर सकता है। Oyo होटल की वेबसाईट पर फोटो डालने से फल यह सुनिश्चित किया जाता है की किया फोटो में जैसा रूम दिखाई देता है वहा वैसा ही है


More services- 

OYO Home, Collections O, spot on, OYO townhouse, capital O


OYO होटल रूम बुक कैसे करे ?

Oyo होटल रूम बुक करने के लिए सबसे फल आपको oyo की वेबसाइट www.oyorooms.com या मोबाइल एप पर जा सकते है इसमें आपको सबसे अकाउंट बना पड़ेगा यह बहुत ही आसान है आप नंबर से भी इसपर अकाउंट बता सकते है।

उसके बाद आपको होटल स्लेक्ट करना होगा फिर book now पर क्लिक करकर पेमेंट करना होगा पेमेंट पूरा होने के बाद जो डेट अपने स्लैक्ट की होगी उसपर आपकी बुकिंग कन्फर्म हो जायेगी और आपको एक एसएमएस आ जायेगा आप होटल में वहा एसएमएस या app पर बुकिंग दिखाकर चेक इन कर सकते है।


Aim of oyo

रितेश अग्रवाल का स्टार्टिंग से ही मकसद लोगों को वैल्यू प्रोवाइड करने का रहा है वहां इस स्टार्टअप की के जरिए लोगों को एक अच्छी व बेहतरीन सुविधा प्रदान करना चाहते हैं वहां इसके लिए हमेशा कार्य करते रहते हैं और और अपने इस बिजनेस को और भी बेहतर बनाने में लगे रहते है उनका मकसद सिर्फ पैसे कमाना नहीं है बल्कि उनके बिजनेस को पूरे वर्ल्ड में फैलाना और लोगों की मदद करना है वहां अपने कार्य के प्रति सशक्त रहते हैं उनका एम है कि 2023 तक ओयो में 25लाख रूम हो रितेश अग्रवाल में बहुत ही छोटी उम्र में स्टार्टअप की शुरुआत की थी और इसके बारे में बहुत कुछ जाना वहां लोगों की प्रॉब्लम को अच्छी तरह समझना जानते हैं और उसका समाधान देते हैं वहा इसे दुनिया भर में फैलाना चाहते हैं। 


यह भी पड़े – Ceo Or Founder Kya hai

आशा है की आपको पता चल गया होगा की Oyo ke मालिक कोन है वा इसके बारे में जानकारी पता लग गई होगी अगर आपको और कोई सवाल पूछना है तो कमेंट बॉक्स में जरूर टाइप करे हम आपको इसका उत्तर जरूर देगे और भी हमारे ब्लॉग को आप जानकारी के लिए पद सकते है या आप जिस टॉपिक के उपर जानना चाहते है कमेंट बॉक्स में बताइए हम उस टॉपिक पर आर्टिकल जरूरी लिखेंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published.